कहानी का कोना

by teenasharma
कहानी का कोना

‘कहानी का कोना’ आपका अपना कोना हैं। इसमें आप उन बिख़री हुई कहानियों को पढ़ेंगे जिसमें कभी ख़ुशी हैं तो कभी ग़म। कभी हंसी हैं तो कभी दर्द..। कभी प्यार हैं तो कभी नफ़रत….। दरअसल, समाज इन्हीं कहानियों का एक हिस्सा हैं। इसी हिस्से को कुछ खट्टे कुछ मीठे किस्सों के रुप में ‘कहानी का कोना’ में लिखने का एक प्रयास किया गया हैं। ये कोना आपका अपना है। जिसमें कभी आप ख़ुद की कहानी को पाएंगे तो कभी अपनों की। ये कहानियां कभी आपको रुलाएंगी तो कभी गुदगुदाएंगी….कभी हसाएंगी तो कभी आपको ज़िंदगी के संघर्षो से लड़ने का हौंसला भी देगी।

मेरी कहानियां समाज से निकली है और समाज के लिए ही लिख रही हूं। कहते हैं एक कहानी में वो ताक़त होती हैं जो समाज की दशा और दिशा बदल सकती हैं…। ‘कहानी का कोना’ शुरु करने का मक़सद भी यही है कि आप अपने आसपास घटित होने वाले विषयों की बारीकियों को महसूस करें और उनके प्रति संवेदनशील रहें। इसलिए विभिन्न श्रेणियों जिसमें कहानी,कविता, पुस्तक समीक्षा, लेखक—साहित्यकारों  से बातचीत, समसामयिक एवं प्रासंगिक मुद्दें, प्रथा—कुप्रथाएं, रंगमंच, प्रसंगवश, ऐतिहासिक घटनाएं एवं विविध को शामिल किया गया हैं। 

कहानी का कोना

 टीना शर्मा ‘माधवी’

उपरोक्त श्रेणियों में से यदि आप किसी भी श्रेणी पर कोई  रचनाएं,  हिन्दी कहानियां व कविताएं पढ़ते हैं, सुनते हैं और लिखते हैं…यदि आपके पास भी है ऐसी कोई कहानी व कविताएं , जिसने आपके जीवन को प्रभावित किया, जिसने आपको भीतर तक झंकझौर दिया…जिसने आपको सोचने पर मजबूर कर दिया…तो तुरंत हमें कहानी का कोना पर लिख भेजिए। 

टीना शर्मा ‘माधवी’
(एडमिन)

पत्रकार/ ब्लॉगर/ कहानीकार

kahanikakona@gmail.com
teenasharma.writer@gmail.com

9928796868

 

‘कांपती’ बेबसी…

कबिलाई— एक ‘प्रेम’ कथा

‘फटी’ हुई ‘जेब’….

© कॉपीराइट एक्ट के तहत ब्लॉग ‘कहानी का कोना’ के सर्वाधिकार सुरक्षित हैं। ब्लॉग की सामग्री को किसी भी रुप में इस्तेमाल करने पर एक्ट के तहत कड़ी कानूनी कार्रवाई की जा सकती हैं।

धन्यवाद

Related Posts

2 comments

נערת ליווי July 28, 2022 - 8:58 pm

Itís difficult to find well-informed people in this particular subject, but you sound like you know what youíre talking about! Thanks

Reply
דירות דיסקרטיות חולון August 15, 2022 - 8:31 am

Greetings! Very useful advice within this article! It is the little changes that produce the most significant changes. Thanks for sharing!

Reply

Leave a Comment

मैं अपने ब्लॉग kahani ka kona (human touch) पर आप सभी का स्वागत करती हूं। मेरी कहानियों को पढ़ने और उन्हें पसंद करने के लिए आप सभी का दिल से शुक्रिया अदा करती हूं। मैं मूल रुप से एक पत्रकार हूं और पिछले सत्रह सालों से सामाजिक मुद्दों को रिपोर्टिंग के जरिए अपनी लेखनी से उठाती रही हूं। इस दौरान मैंने महसूस किया कि पत्रकारिता की अपनी सीमा होती हैं कुछ ऐसे अनछूए पहलू भी होते हैं जिसे कई बार हम लिख नहीं सकते हैं।

error: Content is protected !!